अलग्योझा - मुंशी प्रेमचंद | Algyojha - Premchand.

Share:

Listens: 1839

Hindi Kahaniyan | हिंदी कहानियाँ

Arts


यह कहानी है बदक़िस्मत रग्घू की, उसकी सौतेली माँ की। यह कहानी है रग्घू की पत्नी मुलिया की, उसके हठ की। यह कहानी है सौतेले भाइयों की। यह कहानी है एक नेक इंसान के बदक़िस्मती की।  यह कहानी है घर के बँटवारे की, अलग्योझे की।
अचानक परिवार में आए उतार-चढ़ाव ने रग्घू की ज़िंदगी में भयंकर तूफ़ान खड़ा कर दिया। पर इस अलग्योझा के कारण जिंदगियों ने कुछ ऐसे करवट बदली कि...
जानने के लिए सुनिए मुंशी प्रेमचंद जी की कहानी - अलग्योझा
Munshi Premchand's f